Vishwakarma Day Puja | Indian Festival 2018 | Vishwakarma Jayanti History

Vishwakarma Day Puja | Indian Festival 2018 | Vishwakarma Jayanti History
1+
Vishwakarma Day Puja | Indian Festival 2018 | Vishwakarma Jayanti History
  • हिन्दू धर्म के अनुसार निर्माण एवं सृजन के देवता भगवान विश्वकर्मा कहलाये जाते हैं। तकनीकी भाषा में
    इन्हें दुनिया का सबसे पहला इंजीनियर भी कहा जाता है। यमपुरी, सुदामापुरी, शिवमंडलपुरी, वरुणपुरी,
    पाण्डवपुरी, इन्द्रपुरी, देवताओं के भव्य महल, आलीशान भवन, सिंघासन, शस्त्र और देवताओं के दैनिक
    उपयोग की वस्तुओं आदि का निर्माण भगवान विश्वकर्मा ने किया था।
  • विश्वकर्मा के जन्म से जुडी कथा पुराणों में वर्णित कथा के अनुसार संसार की रंचना के आरंभ में भगवान
    विष्णु क्षीर सागर में प्रकट हुए। विष्णु जी के नाभि-कमल से चतुर्मुखी ब्रह्मा जी दृष्टिगोचर हो रहे थे।
    ब्रह्मा के पुत्र “धर्म” का विवाह “वस्तु (प्रजापति दक्ष की कन्याओं में से एक)” से हुआ। धर्म के सात
    पुत्र हुए इनके सातवें पुत्र का नाम “वास्तु” रखा गया, जो शिल्पशास्त्र की कला से परिपूर्ण थे। “वास्तु”
    और अंगिरसी के विवाह के पश्चात उनका एक पुत्र हुआ जिसका नाम विश्वकर्मा रखा गया, जो अपने पिता
    की तरह वास्तुकला के अद्वितीय गुरु बने। और उन्हें विश्वकर्मा के नाम से जाना जाने लगा।
  • विश्वकर्मा पूजा की मान्यता विश्वकर्मा जी की पूजा करने से व्यापार में तरक्की होती है । विश्वकर्मा पूजा करने वाले व्यक्ति के घर धन-धान्य तथा सुख-समृद्धि की कभी कोई कमी नही रहती है। तथा सभी मनोकामना पूरी हो जाती है। इसलिए फैक्ट्री, कल-कारखानों, हार्डवेयर की दुकानों में मशीनों ,औजारों आदि से अपना काम करने वाले लोग विश्वकर्मा पूजा बड़े ही धूमधाम से मनाते है।

     

  • In Hindu mythology, Viswakarma is considered as the Divine Architect. Vishwakarma is called ‘Devashilpi’ or ‘The Architect of Gods’ . Vishwakarma’s mother was Yoga Siddha, sister of Brihaspati. Vishwakarma’s father was Prabhas, the eighth hermit of the legendary Astam Basu. The Rig Veda describes Viswakarma as the god with multi-dimensional vision and supreme strength. Vishwa karma is able to predict well in advance in which direction his creation will move.
  • According to mythology it is Viswakarma who created the entire universe as well as the heaven and the earth. Viswakarma is also credited for creating the missiles used in the mythological era, including the Vajra the sacred weapon of Lord Indra, from the bones of sage Dadhichi. He is regarded as the supreme worker, the very essence of excellence
Chhath Puja
1+

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *